प्रतापगढ़ के अधिवक्ता चंद्रशेखर उपाध्याय स्थाई लोक अदालत प्रतापगढ़ के सदस्य नियुक्त किए गए।

उत्तर प्रदेश सरकार के आदेशानुसार जनपद प्रतापगढ़ में अधिवक्ता के रूप में प्रैक्टिस कर रहे चंद्रशेखर उपाध्याय एडवोकेट को स्थाई लोक अदालत प्रतापगढ़ का सदस्य नियुक्त किया गया है। श्री उपाध्याय ने आज कार्यभार ग्रहण कर लिया।

डाo शक्ति कुमार पाण्डेय
विशेष संवाददाता
ग्लोबल भारत न्यूज नेटवर्क

प्रतापगढ़, 9 जुलाई।

प्रतापगढ़ के अधिवक्ता चंद्रशेखर उपाध्याय स्थाई लोक अदालत प्रतापगढ़ के सदस्य नियुक्त किए गए।

उत्तर प्रदेश सरकार के आदेशानुसार जनपद प्रतापगढ़ में अधिवक्ता के रूप में प्रैक्टिस कर रहे चंद्रशेखर उपाध्याय एडवोकेट को स्थाई लोक अदालत प्रतापगढ़ का सदस्य नियुक्त किया गया है। श्री उपाध्याय ने आज कार्यभार ग्रहण कर लिया।

राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण उत्तर प्रदेश लखनऊ द्वारा जारी विज्ञप्ति दिनांक 6 जुलाई 2021 के अनुसार श्री उपाध्याय की नियुक्ति 5 वर्ष की अवधि अथवा 65 वर्ष की आयु में जो भी पहले हो, तक के लिए की गई है।

स्थाई लोक अदालत के सदस्य की चयन प्रक्रिया माह जुलाई 2020 में तत्कालीन जनपद न्यायाधीश प्रतापगढ़ की अध्यक्षता में गठित की गई चयन समिति द्वारा प्रारंभ की गई थी।

चयन समिति के समक्ष जनपद न्यायालय प्रतापगढ़ में प्रैक्टिस करने वाले कुल 78 अधिवक्ताओं ने आवेदन किया था, जिस पर विचारोपरांत चयन समिति द्वारा चंद्रशेखर उपाध्याय के नाम की संस्तुति राज्य सरकार को प्रेषित की गई थी।

राज्य सरकार के अनुमोदन के उपरांत राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण उत्तर प्रदेश लखनऊ द्वारा 6 जुलाई 2021 को नियुक्ति आदेश जारी किया गया।

उक्त आदेश के क्रम में आज 9 जुलाई को चंद्रशेखर उपाध्याय ने स्थाई लोक अदालत प्रतापगढ़ के सदस्य के रूप में कार्यभार ग्रहण कर लिया।

प्रतापगढ़ के स्कूल वार्ड में एबी लाल रोड के निवासी चन्द्र शेखर उपाध्याय पूर्व में दीवानी न्यायालय प्रतापगढ़ में अपर जिला शासकीय अधिवक्ता दीवानी के पद पर भी कार्य कर चुके हैं।

चन्द्र शेखर उपाध्याय को दीवानी मामलों का विशेषज्ञ भी माना जाता है। चन्द्र शेखर उपाध्याय द्वारा वर्ष 1984 में अधिवक्ता के रूप में प्रैक्टिस शुरू की गई थी और तब से वह लगातार जिला न्यायालय में प्रैक्टिस में बने हुए हैं।