गृह मंत्री अमित शाह आज लखनऊ के पिपरसंड में “यूपी स्टेट इंस्टीट्यूट आफ फोरेंसिक साइंसेज” का शिलान्यास करेंगे।

लखनऊ से गृहमंत्री अमित शाह और सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार दोपहर 2.40 बजे मिर्जापुर के देवरी हेलीपैड पहुंचेंगे। देवरी से 3.10 बजे विंध्याचल पहुंचेंगे, जहां मां विंध्यवासिनी के दर्शन पूजन करने के बाद विंध्य कारिडोर का शिलान्यास व रोप-वे का लोकार्पण करेंगे।

डा० शक्ति कुमार पाण्डेय
राज्य संवाददाता (यूपी)
ग्लोबल भारत न्यूज नेटवर्क

लखनऊ, 1 अगस्त।

गृह मंत्री अमित शाह रविवार सुबह 11 बजे लखनऊ के पिपरसंड में यूपी स्टेट इंस्टीट्यूट आफ फोरेंसिक साइंसेज का शिलान्यास करेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डा.दिनेश शर्मा, केंद्रीय राज्य मंत्री आवास एवं शहरी कार्य कौशल किशोर, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) महिला कल्याण तथा बाल विकास व पुष्टाहार स्वाती सिंह, सदस्य विधान परिषद स्वतंत्र देव सिंह, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, डीजीपी मुकुल गोयल व अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहेंगे।

इस इंस्टीट्यूट में भौतिक शास्त्र, रसायन शास्त्र, जीव विज्ञान, कंप्यूटर साइंस, बिहेवियरल साइंस, अपराध शास्त्र, विधि, पुलिस विज्ञान व पुलिस प्रशासन विषयों पर विभिन्न कोर्स होंगे।

इसमें बीएससी, एमएससी फोरेंसिक साइंस, एमफिल, पीएचडी, पोस्ट डाक्टोरल रिसर्च, पीजी डिप्लोमा इन फोरेंसिक साइंस, एडवांस स्पेशलाइज्ड एंड टेलरमेड पीजी डिप्लोमा व अन्य पीजी सर्टिफिकेट के कोर्स भी प्रस्तावित हैं।

इनमें प्रतिवर्ष करीब 500 छात्र शिक्षा ग्रहण करेंगे। होंगे। इंस्टीट्यूट में कुल आठ अनुभाग व 14 प्रयोगशालाएं होंगी। इनमें भौतिक अनुभाग में आग्नेयास्त्र, फोरेंसिक ध्वनिकी व प्रलेख प्रयोगशालाएं होंगी। रसायन अनुभाग में विस्फोटक व विष विज्ञान प्रयोगशालाएं होंगी। जीव विज्ञान अनुभाग में जीव विज्ञान, सीरम विज्ञान व डीएनए प्रयोगशालाएं होंगी।

कंप्यूटर साइंस अनुभाग में डेटा एनालिसिस, साइबर सुरक्षा व साइबर फोरेंसिक लैब होंगी। व्यवहार विभाग अनुभाग में लाई डिटेक्शन, नार्को एनालिसिस व ब्रेन मैङ्क्षपग प्रयोगशालाएं होंगी।

इसके अलावा अपराध विज्ञान, कानून-व्यवस्था, पुलिस विज्ञान व प्रशासन अनुभाग होंगे। इंस्टीट््यूट 50 एकड़ भूमि में बनेगा।

इंस्टीट्यूट में निदेशक, अपर निदेशक, उपनिदेशक, प्रशासनिक अधिकारी, वित्त नियंत्रक व विभिन्न संकायों में प्रोफेसर समेत कुल 351 पद प्रस्तावित हैं। इंस्टीट्यूट के बगल में करीब 50 एकड़ भूमि पर डीएनए सेंटर फार एक्सीलेंस का भी निर्माण प्रस्तावित है। यह सेंटर राष्ट्रीय फोरेंसिक विश्वविद्यालय, गुजरात से संबद्ध होगा। इंस्टीट्यूट में फोरेंसिक साइंस के वैज्ञानिकों, पुलिस अधिकारियों व न्यायिक अधिकारियों का प्रशिक्षण भी कराया जाएगा।

गृहमंत्री अमित शाह आज इसके बाद वह वाराणसी और मिर्जापुर भी जाएंगे।

रविवार सुबह 11 बजे गृहमंत्री अमित शाह लखनऊ के सरोजनीनगर में लोगों को संबोधित भी करेंगे।

लखनऊ से गृहमंत्री अमित शाह और सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार दोपहर 2.40 बजे मिर्जापुर के देवरी हेलीपैड पहुंचेंगे। देवरी से 3.10 बजे विंध्याचल पहुंचेंगे और मां विंध्यवासिनी के दर्शन पूजन करने के बाद विंध्य कारिडोर का शिलान्यास व रोप-वे का लोकार्पण करेंगे। वहां मिर्जापुर के भाजपा जिलाध्यक्ष ब्रज भूषण सिंह, स्थानीय विधायक रत्नाकर मिश्रा और अन्य वरिष्ठ नेताओं द्वारा गृहमंत्री और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का स्वागत किया जाएगा।

इसके बाद महुअरिया के जीआईसी में जनसभा को संबोधित करेंगे। जनसभा के बाद गृहमंत्री और मुख्यमंत्री वाराणसी जाएंगे। इस बीच गृहमंत्री का विश्वनाथ मंदिर का दौरा तय होने के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने तैयारी शुरू कर दी।

एक अरब 28 करोड़ की लागत से विंध्य कॉरिडोर तैयार होगा। इसमें मंदिर के चारों तरफ 50 मीटर चौड़ा परिक्रमा पथ, विंध्यधाम की सड़कों के चौड़ीकरण के अलावा अष्टभुजा एवं काली खोह की सड़कों का भी चौड़ीकरण कराया जाएगा। साथ ही गंगा घाटों का सौंदर्यकरण भी प्रस्तावित है।