आज का राशिफल

कामयाब लोगों के फैसले से दुनिया बदलती है, जबकि नाकामयाब लोग दुनिया के डर से अपने फैसले बदलते है। क्योकि जिंदगी में तपन कितनी भी हो कभी मायूस मत होना, धूप कितनी भी तेज हो समुंद्र को कभी सूखा नही सकती।।

ग्लोबल भारत न्यूज़ नेटवर्क

दिनाँक:- 04 अगस्त 2021, दिन:- बुधवार
ज्योतिष आचार्य सुरेश कुमार आसवानी

मेष राशि:- भूमि-आवास की समस्या रह सकती है। आजीविका में नवीन प्रस्ताव मिलेगा। दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। मेहनत का फल मिलेगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। प्रसन्नता रहेगी।

वृष राशि:- भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी। मान बढ़ेगा। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। अपनी बुद्धिमत्ता से आप सही निर्णय लेने में सक्षम होंगे। विकास की योजनाएं बनेंगी। समय अनुकूल है।

मिथुन राशि:- प्रेम-प्रसंग अनुकूल रहेगा। भेंट-उपहार की प्राप्ति होगी। यात्रा लाभदायक रहेंगी। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। नौकरी अनुकूल रहेंगी। व्यावसायिक चिंता दूर हो सकेगी। स्वयं के सामर्थ्य से ही भाग्योन्नति के अवसर आएंगे।

कर्क राशि:- वाहन के प्रयोग में सावधानी रखें। स्वास्थ्य पर व्यय होगा। विवाद न करें। यात्रा में अपनी वस्तुओं को संभालकर रखें। कर्म के प्रति पूर्ण समर्पण रखें। अधीनस्थों की ओर ध्यान दें। कारोबार अच्छा चलेगा। आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी।

सिंह राशि:- बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। आय बढ़ेगी। अपने व्यसनों पर नियंत्रण रखते हुए कार्य करना चाहिए। दुसरो पर अधिक विश्वास न करें।

कन्या राशि:- नए अनुबंध होंगे। कार्य की प्रवृत्ति में व्यावहारिकता का समावेश आवश्यक है। व्यापार में नई योजनाओं पर कार्य होंगे। जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा। यात्रा अनुकूल रहेगी। निवेश लाभदायक रहेगा। नौकरी में चैन रहेगा।

तुला राशि:- धर्म-कर्म में रुचि बढ़ेगी। राजकीय बाधा दूर होगी। वरिष्ठजन सहयोग करेंगे। बुद्धि से कार्य में सफलता के योग बनेंगे। यात्रा कष्टप्रद हो सकती है। अतः उसका परित्याग करें। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। आय बनी रहेगी।

वृश्चिक राशि:- दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। सकारात्मक विचारों के कारण प्रगति के योग आएंगे। कार्यपद्धति में विश्वसनीयता बनाए रखें। वाहन के प्रयोग में सावधानी रखें। चोट व दुर्घटना से सावधान रहें। जल्दबाजी बिल्कुल न करें।

धनु राशि:- प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। भेट-उपहार की प्राप्ति होगी। राजकीय काम बनेंगे। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। संतान से मदद मिलेगी। आर्थिक स्थिति में प्रगति की संभावना है। धन की प्राप्ति के योग हैं। शुभ समय।

मकर राशि:- संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। परीक्षा व साक्षात्कार में सफलता मिलेगी। समाज में प्रसिद्धि के कारण सम्मान में बढ़ौत्री होगी। आजीविका में नवीन प्रस्ताव मिलेंगे। परिवार की समस्याओं को अनदेखा न करें। फालतू बातों पर ध्यान न दें।

कुंभ राशि:- किसी मांगलिक कार्य में भाग लेने का अवसर मिलेगा। रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। कामकाज में धैर्य रखने से सफलता मिल सकेगी। योजनाएं फलीभूत होंगी। मित्रों में आपका वर्चस्व बढ़ेगा।

मीन राशि:- राजकीय सहयोग मिलेगा एवं इस क्षेत्र के व्यक्तियों से संबंध बढ़ेंगे। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता में सफलता मिलेगी। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। निवेश लाभदायक रहेगा। नौकरी में प्रमोशन मिलेगा। समय अनुकूल है। लाभ होगा।

आज का पंचांग

जीवन दर्पण ज्योतिष केंद्र प्रस्तुत कर रही है। खास आपके लिए आज के दिन के विशिष्ट मुहूर्त। अगर आप आज वाहन खरीदने का विचार कर रहे हैं या आज कोई नया व्यापार आरंभ करने जा रहे हैं तो आज के शुभ मुहूर्त में ही कार्य करें ताकि आपके कार्य सफलतापूर्वक संपन्न हो सकें। ज्योतिष एवं धर्म की दृष्टि से इन मुहूर्तों का विशेष महत्व है। मुहूर्त और चौघड़िए के आधार पर जीवन दर्पण ज्योतिष केंद्र आपके लिए प्रतिदिन के खास मुहूर्त की सौगात लेकर आई है।

आज के मुहूर्त

शुभ विक्रम संवत्- 2078
शक संवत्- 1943
जेन वीर संवत- 2547
हिजरी सन्- 1442
ईस्वी सन्- 2021
अयन- दक्षिणायण
मास- श्रावण
पक्ष- कृष्ण
संवत्सर नाम- आनन्द
ऋतु- वर्षा
वार- बुधवार
तिथि (सूर्योदयकालीन)- एकादशी
नक्षत्र (सूर्योदयकालीन)- मृगशिरा
योग (सूर्योदयकालीन)- व्याघात
करण (सूर्योदयकालीन)- बालव
लग्न (सूर्योदयकालीन)- कर्क
शुभ समय- 6:00 से 9:11, 5:00 से 6:30 तक
राहुकाल- दोप. 12:00 से 1:30 बजे तक
दिशा शूल- ईशान
योगिनी वास- आग्नेय
गुरु तारा- उदित
शुक्र तारा- उदित
चंद्र स्थिति- मिथुन
व्रत/मुहूर्त- कामदा एकादशी व्रत (सर्वे.)/जातकर्म/ नामकरण मु.
यात्रा शकुन- हरे फल खाकर अथवा दूध पीकर यात्रा पर निकलें।
आज का मंत्र- ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:।
आज का उपाय- किसी विप्र को हरे फल सहित कांस्य पात्र दान करें।
वनस्पति तंत्र उपाय- अपामार्ग के वृक्ष में जल चढ़ाएं।।