अमेठी: मोरंग व्यवसाई से 20 लाख की रंगदारी मांगने वाला अभियुक्त चढ़ा पुलिस के हत्थे।

ग्लोबल भारत न्यूज़ नेटवर्क
रिपोर्ट: दिलीप यादव

4 अगस्त अमेठी।
जिले में नए पुलिस कप्तान की सक्रियता से बड़ा हादसा टला। जिले के जायस कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत कस्बा चौधराना निवासी मकबूल अहमद से 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगने तथा 24 घंटे के अंदर ना मिलने पर हत्या की धमकी देने वाले अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। लेकिन किसी भी प्रकार की कोई घटना ना घटित होने पाए इसके लिए अमेठी पुलिस अधीक्षक ने तत्काल प्रभाव से पीड़ित व्यवसाई को सुरक्षात्मक दृष्टि से सुरक्षाकर्मी मुहैया करवा दी थी उसके बाद से थाना जायस सर्विलांस टीम एवं एसओजी टीम द्वारा लगातार इस पर कार्य किया जा रहा था जिसकी सफलता 3 अगस्त को मिली। अमेठी जिले के जायस थाना क्षेत्र अंतर्गत मोहल्ला चौधराना के रहने वाले मौरंग व्यावसाई मकबूल अहमद पुत्र लाल मोहम्मद से 28 जुलाई को उनके मोबाइल पर दोपहर करीब 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई थी। रंगदारी मांगने वाले व्यक्ति ने धमकी देते हुए कहा था कि यदि 24 घंटे में 20 लाख रुपये नहीं दिया तो जान से मरवा दूंगा। इस मामले में जायस थाने में शिकायत दर्ज करायी गई थी। जिस पर मुकदमा अपराध संख्या 204/20 धारा 386, 507 पंजीकृत करते हुए सर्विलांस टीम एवं टीम को एक्टिव कर दिया गया । इसके बावजूद कोतवाली पुलिस ने पीड़ित मकबूल अहमद के सुरक्षा की दृष्टि से तत्काल उनकी सुरक्षा में सुरक्षाकर्मी भी तैनात कर दिया था और मामले की छानबीन की जा रही थी। 3 अगस्त 2020 को कोतवाली प्रभारी जायस भारत उपाध्याय एवं एसओजी प्रभारी विनोद यादव की टीम द्वारा रिफाकत पुत्र यामीन निवासी गुरावली हसनपुर जनपद अमरोहा और शोएब पुत्र हबीब अहमद हरकरनपुर पुर थाना जामो जनपद अमेठी के रहने वाले जो मौजूदा समय में मोहल्ला चौधराना थाना जायस में रहते हैं को ग्राम ओदारी से गिरफ्तार कर लिया गया पूछताछ में गिरफ्तार हुए अभियुक्त शोएब ने बताया कि हमारा विवाद मकबूल से जमीन व रास्ते का चल रहा था कोई हल नहीं निकल रहा था इसलिए मैंने अपने दोस्त रिफाकत से मदद मांगी और रिफाकत में 3 लाख रुपये में तय किया। व्हाट्सएप पर विवादित जमीन व फोटो तथा मकबूल का मोबाइल नंबर रिफाकत को दिया। तब रिफाकत ने मकबूल को विवादित जमीन छोड़ने व 20 लाख रुपए की रंगदारी की मांग की तथा इसी के साथ उसने कहा कि यदि जमीन नहीं देते हो तो 24 घंटे के अंदर तुम्हें जान से मार देंगे। उपर्युक्त दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर अमेठी पुलिस ने सुसंगत धाराओं में जेल भेज दिया।