सौ करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य पूरा होने पर देश मे जश्न, लाल किले पर फहराया गया अब तक का सबसे बड़ा तिरंगा। यूनिसेफ इंडिया व WHO ने भारत सरकार को दी बधाई।

ग्लोबल भारत न्यूज़ नेटवर्क
रिपोर्ट: विकास पाण्डेय संवाददाता

सम्पूर्ण विश्व वैश्विक महामारी कोरोना से जंग लड़ रहा है। इसी कड़ी में भारत के लिए आज का दिन ऐतिहासिक रहा। आज 100 करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य देश ने पूरा कर लिया। चीन के बाद भारत दूसरा देश बन गया है जिसने 100 करोड़ लोगों को टीका लगाने में उपलब्धि हासिल की है। पूरे देश में इस उपलब्धि को लेकर जश्न का माहौल है। रेलवे स्टेशनों, मेट्रो स्टेशनों सहित एयरपोर्ट पर इसका ऐलान किया गया। लालकिले पर अब तक का सबसे बड़ा तिरंगा फहराया जिसका वजन 1400किग्रा. है। इसके अतिरिक्त देश के विश्व प्रसिद्ध स्मारकों पर तिरंगे के स्वरूप में रोशनी प्रदर्शित की जा रही है। पीएम मोदी दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल पहुंचे। उन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों से लगभग 20 मिनटों तक मुलाकात कर उनका आभार व्यक्त करने के साथ शुभकामनाएं भी दी। यूनिसेफ इंडिया ने एक बयान जारी कर 100 करोड़ टीकाकरण की उपलब्धि के लिए भारत सरकार को बधाई देते हुए कहा हम टीकाकरण में तीव्रता लाने के लिए हाल के महीनों में भारत सरकार द्वारा की गई प्रगति का स्वागत करते हैं। भर जैसे विशाल और विविधता वाले देश में एक वर्ष से भी कम समय में 1 बिलियन वैक्सीनेशन देने की तार्किक जटिलताओं को देखते हुए ये एक जबरदस्त उपलब्धि है।

भारत में टीकाकरण अभियान।

विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना संक्रमण को महामारी घोषित किए जाने के ठीक 10 महीने बाद भारत ने 16 जनवरी को कोरोना वायरस के खिलाफ अपना टीकाकरण अभियान शुरू किया था। अगले नौ महीनों में भारत सरकार अपनी आबादी को 100 करोड़ खुराक देने में कामयाब रही है। हालांकि, यह संख्या प्रभावशाली है, लेकिन भारत को सबसे अधिक टीकाकरण वाले देशों में शामिल नहीं करती है। भारत के अलावा चीन भी इस उपलब्धि को हासिल करने में कामयाब रहा है। यह भी ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि केवल इन दोनों देशों की आबादी 100 करोड़ से अधिक है। वैश्विक आंकड़ों के अनुसार, अब तक दुनिया भर में कोविड के टीकों की 664 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है। भारत में इस संख्या का लगभग 15 प्रतिशत हिस्सा है। विश्व की लगभग 48 प्रतिशत आबादी को कोविड के टीके की कम से कम एक खुराक अब तक दी जा चुकी है। 100 करोड़ी के आंकड़े के जश्न के बीच हमें ये नहीं भूलना चाहिए कि हमने कोरोना के खिलाफ चलाए गए टीकाकरण अभियान में सिर्फ 22% जीत हासिल की है. यानी 22% आबादी को ही हम टीका लगा पाए हैं। महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका में 57% आबादी का पूरी तरह टीकाकरण हो चुका है. अमेरिका को अभी 43% लोगों को टीकाकरण करना है। जबकि भारत में 78% लोगों का टीकाकरण होना अभी बाकी है। यानी इस जंग में हमें अभी अमेरिका की तुलना में दोगुनी मेहनत करनी होगी