लखनऊ पुलिस ने एक रेस्टोरेंट में छापा मारकर हुक्का पीने पिलाने के आरोप में 24 लोगों को गिरफ्तार किया।

एडीसीपी उत्तरी प्राची सिंह ने बताया कि कई दिनों से हुक्का परोसे जाने की शिकायत मिल रही थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई।
लखनऊ पुलिस ने एक रेस्टोरेंट में छापा मारकर हुक्का पीने पिलाने के आरोप में 24 लोगों को गिरफ्तार किया।

डा. एस. के. पाण्डेय
राज्य संवाददाता
ग्लोबल भारत न्यूज नेटवर्क

लखनऊ, 1 मार्च।
लखनऊ की महानगर पुलिस ने गोल मार्केट चौराहा स्थित कांसेप्ट हेडक्वार्टर रेस्टोरेंट में छापेमारी के दौरान कई लोगों को हुक्का पीते पकड़ा और कुल 24 लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

अफरातफरी के बीच पुलिस टीम ने रेस्टोरेंट के मैनेजर समेत आठ कर्मचारियों और हुक्का पी रहे 16 युवक-युवतियों को हिरासत में ले लिया। रेस्टोरेंट से आठ हुक्के और फ्लेवर बरामद किए गए।

एडीसीपी उत्तरी प्राची सिंह ने बताया कि कई दिनों से हुक्का परोसे जाने की शिकायत मिल रही थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई।

उन्होंने कहा कि यह रेस्टोरेंट दिल्ली निवासी अंकित वर्मा का है, जिससे संपर्क करने का प्रयास किया जा रहा है।

मैनेजर विकास, मुकेश, शेफ जीशान समेत आठ कर्मचारियों को पकड़कर लाया गया है। पुलिस आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई करेगी।

इससे पहले 14 जनवरी को राजधानी के सप्रू मार्ग स्थित “बेक एंड फ्लेम रेस्टोरेंट” में हजरतगंज पुलिस ने छापा मारा था। उसमें भी छापेमारी कर 12 हुक्का बरामद करके रेस्टोरेंट को सील कर दिया गया था। साथ ही रेस्टोरेंट संचालक इलियाश समेत चार लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी।

उल्लेखनीय है कि हाइकोर्ट के आदेश के बाद राजधानी में हुक्का बार प्रतिबंधित किया गया है। कोरोना काल में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए हाईकोर्ट ने यह आदेश जारी किया था।

इसके बाद से लखनऊ पुलिस विभिन्न हुक्का बार में छापेमारी कर चुकी है। विभूतिखंड, अलीगंज, राजाजीपुरम और हजरतगंज समेत कई इलाकों में बिना लाइसेंस के अवैध रूप से लोगों को हुक्का पिलाने वालों के खिलाफ पुलिस लगातार कार्यवाही कर रही है।

इससे पहले भी कई कर्मचारियों और हुक्का बार के संचालकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। बावजूद इसके अभी भी कुछ रेस्टोरेंट में चोरी छिपे हुक्का परोसा जा रहा है।