सत्र के दौरान सांसदों को आपराधिक मामलों में कोई छूट नहीं : वेंकैया नायडू

 
सत्र के दौरान सांसदों को आपराधिक मामलों में कोई छूट नहीं : वेंकैया नायडू
सत्र के दौरान सांसदों को आपराधिक मामलों में कोई छूट नहीं : वेंकैया नायडूनई दिल्ली, 5 अगस्त (आईएएनएस)। राज्यसभा में कांग्रेस सदस्यों ने कहा कि विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे का अपमान किया गया है, क्योंकि उन्हें गुरुवार को सदन के कामकाज के दौरान पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा बुलाया गया। इस पर जवाब देते हुए राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने शुक्रवार को स्पष्ट किया कि संसद सदस्यों को सत्र के दौरान आपराधिक मामलों में कोई विशेष छूट नहीं है। नायडू ने यह भी कहा कि सदस्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा जारी समन से बच नहीं सकते।

कांग्रेस सदस्य जांच एजेंसियों के कथित दुरुपयोग का विरोध कर रहे हैं। नायडू ने कहा कि सदस्यों की गलत धारणा है कि संसद सत्र के दौरान एजेंसियों द्वारा कार्रवाई से उन्हें विशेषाधिकार प्राप्त है।

उन्होंने स्पष्ट किया कि, संसद के सदस्य कुछ विशेषाधिकारों का आनंद लेते हैं, ताकि वे बिना किसी बाधा के अपने कर्तव्यों का पालन कर सकें। हालांकि, आपराधिक मामलों में, संसद सदस्य एक आम नागरिक से अलग पायदान पर नहीं होते हैं। संसद सदस्यों को सत्र के दौरान या अन्यथा किसी आपराधिक मामले में गिरफ्तार होने से कोई छूट प्राप्त नहीं है।

साथ ही उन्होंने सदस्यों को सलाह दी कि यदि कोई पेश होने के लिए कहता है, तो किसी भी जांच एजेंसी के सामने पेश होने से बचने के लिए हाउस ड्यूटी का हवाला ना दें।

--आईएएनएस

एचके/एसकेपी