अयोध्या के श्रीरामजन्मभूमि परिसर के निकट एक संदिग्ध मुस्लिम युवक के पकड़े जाने से मचा हड़कंप।

पकड़ा गया युवक मऊआइमा इलाहाबाद का बताया जा रहा है और उसके पास से बाबरी मस्जिद के नाम पर चंदा मांगने की पर्ची बरामद हुई है।

डा. एस. के. पाण्डेय
राज्य संवाददाता
ग्लोबल भारत न्यूज नेटवर्क

लखनऊ, 25 अगस्त।
अयोध्या के श्रीरामजन्मभूमि परिसर के निकट मंगलवार की शाम एक संदिग्ध मुस्लिम युवक के पकड़े जाने से हड़कंप मचा हुआ है। पकड़े गए युवक के पास से मस्जिद के नाम पर चंदा मांगने की पर्ची भी बरामद हुई, जिस पर बाबरी मस्जिद का नाम लिखा हुआ है।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में दिल्ली में पकड़े गए बलरामपुर निवासी आतंकी को लेकर अयोध्या में हाई अलर्ट है। आतंकी से पूछताछ में सामने आया था कि राममंदिर निर्माण से बौखलाए आतंकी देश में आतंकी वारदात करने की साजिश रच रहे हैं।

ऐसे में स्थानीय पुलिस और सुरक्षा बलों द्वारा पूरी सतर्कता बरती जा रही है। संदिग्ध के पकड़े जाने के बाद पुलिस और खुफिया एजेंसियों के कान खड़े हो गए हैं। पुलिस व खुफिया एजेंसियों के द्वारा युवक से पूछताछ की जा रही है।

डीआईजी दीपक कुमार ने भी इस बारे में पूरी जानकारी रामजन्मभूमि पुलिस से हासिल की तथा संदिग्ध के बारे में गहनता से छानबीन करने का निर्देश दिया है।

सीओ अयोध्या अमर सिंह ने बताया कि पकड़ा गया युवक प्रयागराज के मऊआइमा का रहने वाला है। उसे रामगुलेला के पास से पकड़ा गया। उसकी वेशभूषा को देख लोगों को संदेह हुआ। सुरक्षाकर्मियों ने तत्काल उसे हिरासत में ले लिया।

युवक के पास से मिले झोले में कपड़े बरामद हुए। उसके पास से मिली पर्ची को लेकर पुलिस की पूछताछ में उसने बताया कि दुनिया की सभी मस्जिदें उसकी हैं। वह सभी के लिए ऐसे ही चंदा मांगता है। रसीद किसने छपवाकर दी? इसके बारे में भी उसने कोई सीधी जानकारी नहीं दी।

राम जन्मभूमि पुलिस ने मऊआइमा पुलिस से भी संपर्क कर युवक के नाम पते की शिनाख्त कराई। मऊआइमा पुलिस ने उसके मानसिक रूप से अस्वस्थ होने की बात बताई है। फिलहाल उससे अभी पुलिस और मिलिट्री इंटेलीजेंस पूछताछ कर रही है।