प्रतापगढ़ : राष्ट्रीय आय एवं योग्यता आधारित छात्रवृत्ति परीक्षा का परिणाम घोषित

लक्ष्मणपुर ब्लॉक के मॉडल अपर प्राइमरी स्कूल रेंडी से सबसे अधिक 05 बच्चों ने मारी  बाजी, परिषदीय स्कूलों के बच्चों ने प्रतिभा के झंडे किए बुलंद, और जिले का बढ़ाया मान

 
स्कूल

संवाददाता-अमित सिंह (राहुल)

       ग्लोबल भारत न्यूज़ नेटवर्क

प्रतापगढ़/लक्ष्मणपुर : राष्ट्रीय आय एवं योग्यता आधारित परीक्षा में परिषदीय बच्चों ने प्रतिभा के झंडे बुलंद किये हैं जिससे बच्चों ने जिले का मान बढ़ाया है सम्बंधित बच्चों के साथ उनके शिक्षकों को भी खूब बधाईयां मिल रहीं हैं।

विद्यालय में तैनात नोडल संकुल शिक्षक (एनपीआरसी) विश्वदीप सिंह ने बताया कि राष्ट्रीय आय एवं योग्यता आधारित छात्रवृत्ति परीक्षा का परिणाम घोषित किया गया है इसमें जनपद ने एक नया रिकॉर्ड बनाया है इस बार ब्लॉक लक्ष्मणपुर के मॉडल अपर प्राइमरी स्कूल से सबसे अधिक 5 बच्चों ने सफलता प्राप्त की है।

आपको बता दें कि इस योजना परीक्षा में सफल होने वाले विद्यार्थियों को केन्द्र सरकार की ओर से कक्षा नौ से बारहवीं तक अध्ययन करने पर हर साल 12 हजार प्रति वर्ष छात्रवृति दी जाती है चार साल में छात्रवृत्ति के हर विद्यार्थी को 48 हजार मिलेंगे।

छात्रों के लिए है वरदान गरीब परिवार के लिए केंद्र सरकार की राष्ट्रीय स्तर की छात्रवृत्ति परीक्षा में आकांक्षी जनपद के परिषदीय स्कूलों के छात्रों की हिस्सेदारी बेसिक शिक्षा के स्कूलों के लिए संजीवनी की तरह है जारी छात्रवृत्ति परीक्षा परिणाम ये बताती है कि परिषदीय स्कूलों में शिक्षको द्वारा बच्चो को बेहतर भविष्य के लिए उन्हें तराशने का कार्य बेहतर तरीके से हो रहा है।

इस परीक्षा में सबसे अधिक मॉडल अपर प्राइमरी स्कूल रेंडी के बच्चों का चयन हुआ है वहीं विद्यालय के अध्यापकों ने बच्चों की मेहनत की सराहना करते हुए सफल छात्राओं के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

पास होने वाले बच्चों में 1. क्रमांक 80 रूपेश यादव S/O सुनील यादव 2. क्रमांक 83 अमर्त्या पाल D/O राम लखन पाल 3. क्रमांक 174 यश पाल S/O रंजीत पाल 4. क्रमांक 178 सृष्टि विश्वकर्मा D/O गिरजा शंकर विश्वकर्मा 5. क्रमांक 213 आदर्श पाल S/O रामू पाल शामिल हैं।

विद्यालय स्टाफ़ में राम मिलन(इंचार्ज प्रधानाध्यापक),विजय कुमार विश्वकर्मा(गणित एआरपी लक्ष्मणपुर)विश्वदीप सिंह(नोडल संकुल शिक्षक),अंकिता सेन,अमिता सिंह,गुलाबपति है।